पत्नी : तुम्हें नहीं लगता की जरा सी समझदारी से लाखों तलाक के मामले रोके जा सकते हैं.
पति (पत्नी से)- जरा सी समझदारी से शादियां भी तो रोकी जा सकती हैं.